सफलता के सोपान

सफलता के सोपान

कबीरधाम जिला

अनुसूचित जनजाति स्माल बिजनेस योजना

हितग्राही का नाम श्री राधेलाल धुर्वे
पिता का नाम श्री दषरथसिंह धुर्वे
पता कांदापारा, पो.बैजलपुर, तह. बोड़ला, जिला कबीरधाम
व्यवसाय स्थल कांदापारा, पो.बैजलपुर, तह. बोड़ला, जिला कबीरधाम
वितरित ऋण राषि 7,25,000/-
व्यवसाय ट्रेक्टर ट्राली
वर्ष 2014-15

मैं श्री राधेलाल धुर्वे पिता श्री दषरथसिंह धुर्वे ग्राम कांदापारा, पो.बैजलपुर, तह. बोड़ला,जिला कबीरधाम जाति गोंड़ जिला कबीरधाम का हूँ , मैं पांचवी तक षिक्षा प्राप्त किया था। मेरा वार्शिक आय 60,000/- है। मेरे पास कृशि भूमि लगभग 06 एकड़ है, परंतु ट्रेक्टर ट्राली नहीं होने के कारण समय पर कृशि कार्य संचालित करने में आर्थिक स्थिति खराब था। ग्राम कांदापारा एवं आस-पास के गांव वाले को भी किराये पर ट्रेक्टर ट्राली की आवष्यकता था। जनपद पंचायत बोड़ला के माध्यम से मुझे पता चला कि कम ब्याज पर पसंद अनुसार जिला अंत्यावसायी सहकारी समिति कबीरधाम द्वारा ट्रेक्टर ट्राली हेतु ऋण मिलता है, मैं तत्काल कार्यालय से संपर्क कर ट्रेक्टर ट्राली हेतु आवेदन आमंत्रित किया गया, जिसमें निर्धारित आवेदन में आय, जाति, निवास प्रमाण पत्र, राषन कार्ड, परिचय पत्र, आधार कार्ड, अंकसूची, ड्रायविंग लायसेंस, षपथ पत्र प्रस्तुत किया, व अपने पंसद अनुसार महेन्द्रा ट्रेक्टर्स का कोटेषन प्रस्तुत किया, उक्त आवेदन पत्र को जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक में चयन किया गया। ऋण दस्तावेज का औपचारिकताएं पूर्ण करने के उपरांत मुझे दिनांक 20.10.2014 को अधिकृत डीलर से 7,25,000/- रू. का ट्रेक्टर ट्राली प्र्राप्त हुआ, अब मेरे पास ट्रेक्टर ट्राली होने से कृशि कार्य समय पर हो रहा है, एवं गांव में व आस-पास के गांव में किराये से ट्रेक्टर ट्राली उपलबध कराता हूँ । मेरे द्वारा 14239/- रू. मासिक किष्त नियमित रूप से जमा किया जा रहा है। मासिक किष्त चुकाने के उपरांत भी मुझे 15,000/- रू. मासिक आमदनी हो रहा है। जिससे मेरा आर्थिक स्थिति में सुधाऱ हुआ है, आने जाने के लिए मोटर सायकल खरीदा हूं। मेरा स्वयं के कृशि कार्य एवं गांव व आप पास के गांव में कृशि कार्य हो रहा है। समय पर ऋण आदयगी पूर्ण होने के उपरांत ट्रेक्टर ट्राली का मालिक मैं स्वयं बन जाऊंगा। उक्त योजना में लाभान्वित होने के परिणाम स्वरूप मेरा आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है व समाज में व गांव में एवं गांव के आस पास में मेरा प्रतिश्ठा बढ़ा, जिसका श्रेय छ.ग.षासन एवं जिला अंत्यावसायी समिति कबीरधाम देता हूं ।


पिछड़ा वर्ग न्यू स्वर्णिमा (महिला) योजना

हितग्राही का नाम श्रीमती सरस्वती कुम्भकार
पति का नाम श्री बाबूराम कुम्भकार
पता जोकपानी पोस्ट बैजलपुर, तह. बोड़ला, जिला कबीरधाम
व्यवसाय स्थल जोकपानी पोस्ट बैजलपुर, तह. बोड़ला, जिला कबीरधाम
वितरित ऋण राषि 1,00,000/-
व्यवसाय मनिहारी दुकान
वर्ष 2013-14

मैं श्रीमती सरस्वती कुम्भकार पति श्री बाबूराम कुम्भकार वनांचल जोकपानी पोस्ट बैजलपुर, तहसील बोड़ला, जिला कबीरधाम का हंू। मेरी षैक्षणिक योग्यता आठवी उत्तीर्ण तक है। मेरी वार्शिक आय 21,000/- रू. थी। मेरे पति द्वारा छोटे रूप में अनाज के खरीदी बिक्री का कार्य किया जा रहा था। जिससे परिवार का भरण पोशण नही हो पा रही थी, ग्राम जोकपानी एवं आस पास के गांव में मनिहारी दुकान की आवष्यकता को देखते हुये मैं मनिहारी व्यवसाय करना चाहती थी परंतु इसमें सबसे बड़ी आभाव पूंजी का था। एक दिन मेरे पति जिला कार्यालय कवर्धा गये थे, वांहा उनको पता चला कि राश्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम की नवीन योजना न्यू स्वर्णिमा (महिला) जो कि केवल जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति कबीरधाम द्वारा संचालित है। मै कार्यालय में उपस्थित होकर आवेदन आमंत्रित कर निर्धारित आवेदन में आय, जाति, निवास प्रमाण पत्र, राषन कार्ड, परिचय पत्र, आधार कार्ड, अंकसूची, षपथ पत्र प्रस्तुुत किया। उक्त आवेदन पत्र को जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक में चयन किया गया। ऋण दस्तावेज का औपचारिकताएं पूर्ण करने के उपरांत मुझे दिनांक 20.03.2014 को मनिहारी दुकान के लिए 1,00,000/- रू. प्र्राप्त हुआ। मेरे द्वारा मासिक किष्त राषि नियमित रूप से जमा किया जा रहा है। मैं और मेरा पति द्वारा आस पास के गांव, बाजार में छोटे माल वाहक से वाहन में मनिहारी समान ले जा कर बेचते है। उक्त व्यवसाय से मुझे षुद्ध 15,000/- रू. आय हो रही है। जिससे मेरा आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है एवं अपने परिवार का भरण-पोशण में भागीदारी बनी। इस योजना की इकाई लागत 2.00 लाख रू. किया जाना चाहिये। मै इस प्रगति से श्रेय राश्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम नई दिल्ली एवं जिला अंत्यावसायी सहकारी समिति कबीरधाम को देती हूं ।


पिछड़ा वर्ग जनरल लोन (व्यक्तिमूलक) योजना

हितग्राही का नाम श्री उदितनारायण चंद्रवंषी
पिता का नाम श्री मुनीराम चंद्रवंषी
पता ग्राम पोस्ट मोहगांव, तहसील पण्डरिया, जिला कबीरधाम
व्यवसाय स्थल बाजार चौक मोहगांव, तहसील पण्डरिया, जिला कबीरधाम
वितरित ऋण राषि 1,00,000/-
व्यवसाय किराना दुकान
वर्ष 2014-15

मैं श्रीमती सरस्वती कुम्भकार पति श्री बाबूराम कुम्भकार वनांचल जोकपानी पोस्ट बैजलपुर, तहसील बोड़ला, जिला कबीरधाम का हंू। मेरी षैक्षणिक योग्यता आठवी उत्तीर्ण तक है। मेरी वार्शिक आय 21,000/- रू. थी। मेरे पति द्वारा छोटे रूप में अनाज के खरीदी बिक्री का कार्य किया जा रहा था। जिससे परिवार का भरण पोशण नही हो पा रही थी, ग्राम जोकपानी एवं आस पास के गांव में मनिहारी दुकान की आवष्यकता को देखते हुये मैं मनिहारी व्यवसाय करना चाहती थी परंतु इसमें सबसे बड़ी आभाव पूंजी का था। एक दिन मेरे पति जिला कार्यालय कवर्धा गये थे, वांहा उनको पता चला कि राश्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम की नवीन योजना न्यू स्वर्णिमा (महिला) जो कि केवल जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति कबीरधाम द्वारा संचालित है। मै कार्यालय में उपस्थित होकर आवेदन आमंत्रित कर निर्धारित आवेदन में आय, जाति, निवास प्रमाण पत्र, राषन कार्ड, परिचय पत्र, आधार कार्ड, अंकसूची, षपथ पत्र प्रस्तुुत किया। उक्त आवेदन पत्र को जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक में चयन किया गया। ऋण दस्तावेज का औपचारिकताएं पूर्ण करने के उपरांत मुझे दिनांक 20.03.2014 को मनिहारी दुकान के लिए 1,00,000/- रू. प्र्राप्त हुआ। मेरे द्वारा मासिक किष्त राषि नियमित रूप से जमा किया जा रहा है। मैं और मेरा पति द्वारा आस पास के गांव, बाजार में छोटे माल वाहक से वाहन में मनिहारी समान ले जा कर बेचते है। उक्त व्यवसाय से मुझे षुद्ध 15,000/- रू. आय हो रही है। जिससे मेरा आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है एवं अपने परिवार का भरण-पोशण में भागीदारी बनी। इस योजना की इकाई लागत 2.00 लाख रू. किया जाना चाहिये। मै इस प्रगति से श्रेय राश्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम नई दिल्ली एवं जिला अंत्यावसायी सहकारी समिति कबीरधाम को देती हूं ।


अनुसूचित जाति वर्ग ट्रेक्टर ट्राली योजना

हितग्राही का नाम कोमलप्रसाद
पिता का नाम श्री जनकराम
पता बिजई पोस्ट सोनबरसा, तहसील कवर्धा, जिला कबीरधाम
व्यवसाय स्थल बिजई पोस्ट सोनबरसा, तहसील कवर्धा, जिला कबीरधाम
वितरित ऋण राषि 7,25,000/-
व्यवसाय ट्रेक्टर ट्राली
वर्ष 2014-15

मैं श्रीमती सरस्वती कुम्भकार पति श्री बाबूराम कुम्भकार वनांचल जोकपानी पोस्ट बैजलपुर, तहसील बोड़ला, जिला कबीरधाम का हंू। मेरी षैक्षणिक योग्यता आठवी उत्तीर्ण तक है। मेरी वार्शिक आय 21,000/- रू. थी। मेरे पति द्वारा छोटे रूप में अनाज के खरीदी बिक्री का कार्य किया जा रहा था। जिससे परिवार का भरण पोशण नही हो पा रही थी, ग्राम जोकपानी एवं आस पास के गांव में मनिहारी दुकान की आवष्यकता को देखते हुये मैं मनिहारी व्यवसाय करना चाहती थी परंतु इसमें सबसे बड़ी आभाव पूंजी का था। एक दिन मेरे पति जिला कार्यालय कवर्धा गये थे, वांहा उनको पता चला कि राश्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम की नवीन योजना न्यू स्वर्णिमा (महिला) जो कि केवल जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति कबीरधाम द्वारा संचालित है। मै कार्यालय में उपस्थित होकर आवेदन आमंत्रित कर निर्धारित आवेदन में आय, जाति, निवास प्रमाण पत्र, राषन कार्ड, परिचय पत्र, आधार कार्ड, अंकसूची, षपथ पत्र प्रस्तुुत किया। उक्त आवेदन पत्र को जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक में चयन किया गया। ऋण दस्तावेज का औपचारिकताएं पूर्ण करने के उपरांत मुझे दिनांक 20.03.2014 को मनिहारी दुकान के लिए 1,00,000/- रू. प्र्राप्त हुआ। मेरे द्वारा मासिक किष्त राषि नियमित रूप से जमा किया जा रहा है। मैं और मेरा पति द्वारा आस पास के गांव, बाजार में छोटे माल वाहक से वाहन में मनिहारी समान ले जा कर बेचते है। उक्त व्यवसाय से मुझे षुद्ध 15,000/- रू. आय हो रही है। जिससे मेरा आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है एवं अपने परिवार का भरण-पोशण में भागीदारी बनी। इस योजना की इकाई लागत 2.00 लाख रू. किया जाना चाहिये। मै इस प्रगति से श्रेय राश्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम नई दिल्ली एवं जिला अंत्यावसायी सहकारी समिति कबीरधाम को देती हूं ।

और पढ़ें